Recent Updates
Home / antibayotic medicine / *एंटीबायोटिक दवाइयाँ है जहर, जाने इनके दुष्प्रभाव*

*एंटीबायोटिक दवाइयाँ है जहर, जाने इनके दुष्प्रभाव*

Share this now

*एंटीबायोटिक दवाइयाँ है जहर, जाने इनके नुकसान*

 

“हेलो दोस्तों”
                  आज हम आपके सामने लेकर आ रहे है एंटीबायोटिक के घातक परिणाम। दोस्तों आज हम अपनी दिनचर्या में एंटीबायोटिक दवाइयों का सेवन कुछ ज्यादा ही करने लगे है। दोस्तों एंटीबायोटिक दवाइयों से हमरे शरीर की थकान और अन्य बिमारिया तो ठीक हो जाती है लकिन दोस्तों क्या आप ये भी जानते हो की इसके प्रयोग से हमारे शरीर को कितना नुक्सान होता है । दोस्तों एंटीबायोटिक दवाइयों के प्रयोग से हमारे हार्ट और हमारी किडनियों की बहुत ही ज्यादा नुकसान पहुँचता है । साथ ही पेट दर्द और डायरिया जैसी बीमारी जन्म लेती है दोस्तों USA की खोज के मुताबिक पाया गया कि देश में 70 फीसदी से ज्यादा लोग इन्ही दवाइयों का सेवन करने से बीमार होते है । लेकिन फिर भी कान, नाक, पेट, टांगो में दर्द होने पर हम इन्ही दवाइयों का सेवन करते है क्योंकि ये हमारे शरीर को आराम पहुँचती है।




 

“एंटीबायोटिक दवाइयों के दुष्प्रभाव”……….

 

*****हार्ट अटैक होने की सम्भावना*****

क्लैरिथ्रोमाइसिन एंटीबायोटिक दवाइयों का सबसे ज्यादा दुष्प्रभाव हमारे हार्ट पर ही पड़ता है USA Research के मुताबिक यह पाया गया की अगर कोई व्यक्ति दो हफ्ते तक लगातार क्लैरिथ्रोमाइसिन एंटीबायोटिक दवाई का प्रयोग करता है तो इससे हार्ट अटैक की सम्भावना काफी बढ़ जाती है। इसलिए जितना ज्यादा हो सके हमें इन दवाइयों का प्रयोग नहीं करना चाहिए ।

 

*****किडनियों का ख़राब होना******

लगातार एंटीबायोटिक के इस्तेमाल से हमारी किडनियों पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है ये दवाइयाँ हमारे ब्लड के अंदर जाकर उसमे ख़राब बेक्टेरिअ बनाना शुरू कर देती है जिसे की किडनिया लोड को ठीक प्रकार से साफ नहीं कर पति और किडनिया ख़राब होने लगती है किडनी में पथरी जैसे रोग भी हो जाते है ।

****पेट सम्बन्धी रोगो को बढ़ावा****

एण्टीबायोटिक दवाइयाँ हमारे पेट में जाकर हमरे आमाश्य को कमजोर कर देती है जिससे की पाचन तंत्र ख़राब होने का खतरा बढ़ जाता है और पेट सम्बन्धी रोग उत्पन्न हो जाते है।

*****त्वचा रोगो का बढ़ना*****





लगातार एंटीबायोटिक दवाइयों को खाने से त्वचा सम्बन्धी रोग उत्पन्न हो जाते है जैसे खुजली होना, स्किन का फटना, स्किन का सफेद होना इत्यादि।

****लिवर का ठीक से काम न करना*****

लगातार इन दवाइयों का प्रयोग से हमारे लिवर पर बहुत ज्यादा प्रभाव पड़ता है। ये दवाईया हमारे बॉडी के हर एक पार्ट को बहुत ही ज्यादा ख़राब कर देती है लिवर के ठीक से काम न करने पर उल्टियाँ लगनी शुरू हो जाती है यूरिक एसिड बढ़ने लग जाता है और पाचन तंत्र ख़राब हो जाता है ।

 

***अतः हम इन सबसे यह परिणाम निकल सकते है कि एंटीबायोटिक दवाइयाँ हमारे लिए जहर का काम करती है ।***

******************




Check Also

मात्र सात दिन में तरबूज के बीजों का काढ़ा दिलाएगा डायबिटीज से हमेशा के लिए छुटकारा बस इस तरह करे इसका सेवन

Share this nowडायबिटीज का काल है तरबूज के बीजों से बना काढ़ा “हेल्लो फ्रेंड्स” आयुर्वेद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »