Recent Updates
Home / Major Disease / Diabetes / डायबिटीज के रोगियों के लिए रामबाण इलाज है गिलोय का सेवन ………

डायबिटीज के रोगियों के लिए रामबाण इलाज है गिलोय का सेवन ………

Share this now

“गिलोय” से करे डायबिटीज का जड़ से इलाज और पाए एक स्वस्थ व खुशहाल जीवन

नमस्कार दोस्तों !जैसा की आप सभी जानते है कि आज के समय में बीमारियां बढ़ती जा रही है ।आज कल के खान पान ने बीमारियों की संख्या को और भी अधिक बढ़ा दिया है ।आज हमारी जीवन शैली भी बहुत बदल गई है ।लोगो की संख्या से ज्यादा तो बीमारिया ही  बढ़ रही है। ये बीमारिया बुजुर्गो को ही नहीं बल्कि बच्चो व युवाओ को भी अपनी चपेट में ले रही है। आज कई बीमारिया तो ऐसी है जो हर तीसरे  व्यक्ति में देखने को मिलती है। इन्ही में से एक बीमारी है “डायबिटीज” यानी कि मधुमेह ।  यह एक ऐसी बीमारी है जिसके कारण शरीर में दूसरी बीमारिया भी जन्म लेती है, अगर डायबिटीज को सही समय पर नियंत्रण  में न किया जाए तो इसके कारण हमारे शरीर के दूसरे अंग भी प्रभावित होते है और हमे दूसरी बीमारियों का भी सामना करना पड़ सकता है।

आइये थोड़ा सा डायबिटीज के बारे में जानकारी ले लेते है  कि डायबिटीज होता क्या है और यह कैसे किसी व्यक्ति को अपनी चपेट में लेता है ।मधुमेह एक ऐसी  खतरनाक बीमारी  है, जो हमारे शरीर को धीरे-धीरे खोखला कर देती  है। अगर एक बार यह बीमारी हो जाए तो जीवनभर आदमी का साथ नहीं छोड़ती और पूरी उम्र आदमी को इसके साथ जीवन गुजारना पड़ता हे ।डायबिटीज तब होती है जब हमारे शरीर  में ब्लड शुगर की मात्रा बढ़ जाती  है । ब्लड शुगर बढ़ने के कारण शरीर में इन्सुलिन सही तरीके से काम नहीं कर पाता और हम डायबिटीज की चपेट में आ जाते है।

दोस्तों !आइये जानते है कि किस प्रकार हम डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी को कुछ हद तक कम कर सकते है ।आयुर्वेद एक ऐसा मंत्र है जो हर प्रकार की बीमारी को दूर करने की क्षमता रखता है । इसके लिए हम आपको एक ऐसी आयुर्वेदिक औषधि के बारे में बताएंगे जो आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होगी जिससे आप बिना किसी डॉक्टरी दवाई के डायबिटीज(मधुमेह)  को नियंत्रित कर पाएंगे।

आयुर्वेद में ऐसी बहुत सी औषधियां हे जो हमे बहुत सी बीमारियों से बचा सकती है। इन्ही में से एक औषधि है “गिलोय” ।इसको हम गिलोय की बेल भी कहते है ।यह हरे रंग की होती है जो दिखने में धागे के समान होती है। डायबिटीज के रोगियों के लिए इसे रामबाण औषधि माना जाता है।

गिलोय को आयुर्वेद में सबसे उत्तम औषधि के रूप में माना जाता है। यह कई प्रकार के रोगो को दूर करने में सक्षम होती है। गिलोय की एक सबसे अच्छी खासियत यह होती है कि यह जिस भी पेड़ पर चढ़ जाती है, उसके गुण को अपने भीतर समा लेती है। नीम पर चढ़ी हुई गिलोय की बेल को सबसे उत्तम माना जाता  है।

आइये जानते है इसका सेवन कैसे करे :

गिलोय का रस

जो लोग  डायबिटीज की बीमारी से पीड़ित है, उन्हें गिलोय के रस का नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। डायबिटीज में इसका रस अमृत के समान माना गया है। इसके नियमित सेवन करने से डायबिटीज की बीमारी  नियंत्रित हो जाती है।

गिलोय का चूर्ण

चूर्ण बनाने के लिए गिलोय के तने को सुखाकर रख  ले और उसे पीस कर उसका बारीक चूर्ण बना ले ।इस चूर्ण का  नियमित रूप से सेवन करे । यह  डायबिटीज के मरीजों के लिए एक वरदान साबित होती है।

तो दोस्तों ये थी हमारी डायबिटीज को दूर करने की चमत्कारी औषधि के बारे में जानकारी जो आपको इस खतरनाक बीमारी से बचा सकती है ,अगर आपको ये जानकारी पसंद आई हो तो  इसे अधिक से अधिक शेयर करे ताकि अगर कोई भी व्यक्ति जो  इस बीमारी से परेशान है तो वो इसका फायदा उठा सके ।

Check Also

एलोवेरा के फायदे जान आप भी हो जायेंगे हैरान ……..

Share this nowलाखो गुणों से भरपूर है “एलोवेरा” का छोटा सा पौधा……. नमस्कार दोस्तों !आज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »