Recent Updates
Home / Major Disease / Blood Pressure / केला तो है ही हमारे लिए फायदेमंद मगर केले का फूल भी किसी औषधि से कम नहीं जानिए कैसे …. health benefit of banana flower in hindi

केला तो है ही हमारे लिए फायदेमंद मगर केले का फूल भी किसी औषधि से कम नहीं जानिए कैसे …. health benefit of banana flower in hindi

Share this now


दोस्तों आज हम आपके लिए जो जानकारी लाये है वो केले के फूल के बारे में है |केला तो है ही हमारे लिए फायदेमंद मगर केले का फूल भी किसी औषधि से कम नहीं जानिए कैसे ….|केले के पेड़ का हर हिस्सा वैसे तो बहुत ही फायदेमंद है चाहे इस पेड़ का तना हो फल हो जड़ हो या फिर फूल |इसकी हर चीज बहुत ही नरम होती है जिसे बड़ी आसानी से हम प्रयोग में ला सकते है |और इस पेड़ के पत्ते भी अक्सर आपने देखा होगा की इसमें खाना प्रोस्ने के काम आता है |वैसे भी भगवान ने इस दुनिया में जितनी भी चीजे बनाई है वो सब किसी न किसी कारण से काम आती है |इसका फल केला जो खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होता है जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है For More Visit https://onlyinayurveda.com



कई बार केले का प्रयोग दवाई के रूप में किया जाता है जिससे छोटी मोटी बीमारियों को दूर किया जाता है |इसी तरह से केले का फूल भी किसी दवाई से कम नहीं है इसे केलेा का दिल माना जाता है |इसमें बहुत जायदा मात्रा में आयरन ,फाइबर ,पोटैशियम ,प्रोटीन ,कैल्शियम ,कॉपर ,मैग्नीशियम व विटामिन इ पाया जाता है |केले का फूल हमारी सेहत के लिए किसी अमृत से कम नहीं माना जाता है |क्या आप जानते है की केले के फूल की सब्जी भी बनाई जाती है जो खाने में बहुत ही स्वादिष्ट व पोषक तत्वों से भरी होती है |केले के फूल को खाने से कई बीमारिया दूर होती है तो आइये जानते है इससे मिलने वाले फायदे ;



जानिए इस मसालेदार तेज पत्ते को खाने से हमारे शरीर को क्या अदभुत फायदे मिलते है …. Tej Patta Ke Fayde In Hindi





# इन्फेक्शन को करे दूर -केले के फूल में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते है जो पैथोजेनिक बक्टेरिया को बढ़ने से रोकता है |जिससे हम कई तरह से सक्रमणो से बच जाते है |

# पाचन सम्बन्धी समस्याएं दूर करे -केले के फूल खाने में इतने हलके होते है जो आसानी से पच जाते है और जिससे  पाचन तंत्र सही रूप से कार्य करता है और इसको खाने से पेट में दर्द व सूजन भी दूर हो जाती है |

# तनाव को करे दूर -केले के फूल के प्रयोग से आप अपने ख़राब मूड को भी ठीक कर सकते है क्योकि केले के फूल में मैग्नीशियम पाया जाता है जो एंटी डिप्रेसेंट है जिससे हमें अपने तनाव को कम करने में मदद मिलती है |

# हीमोग्लोबिन को सही रखता है -केले के फूल में आयरन पाया जाता है जिससे अगर कोई व्यक्ति अनीमिया का शिकार हो तो वो भी ठीक हो जाता है और आपके शरीर में खून की कमी को पूरा कर देता है |

loading…



———————————————————————-
Follow us on social :-
Facebook page — https://goo.gl/sgzLwk
Twitter —- https://twitter.com/crazyindia132
Mobile App Health India :- https://goo.gl/txgp3K
Mobile App Only in Ayurveda :- https://goo.gl/eyzcBd
———————————————————————————————–
# कैंसर को करे दूर -केले के फूल को सेवन करने से हम कैंसर जैसे रोग से भी बच सकते है क्योकि इसमें एंटी ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते है जिससे शरीर में कैंसर पैदा करने वाले सेल्स को ख़तम कर देती है और साथ ही कैंसर की समस्या हमारे शरीर में स्थित सेल्स पर फ्री रेडिकल्स का हमला करने से होता है और केले के फूल में एंटी ऑक्सीडेंट होने पर फ्री रेडिकल्स का मुकबला करता है और शरीर को डैमेज करने से बचा देता है |जिससे हम कैंसर जैसे रोग से भी बच सकते है |




# दिल की बीमारी से करे रक्षा -केले  के फूल में एन्टीऑक्सडेंट पाया जाता है जिससे हमें दिल की बीमारियों का खतरा भी कम हो जाता है |

# पीरियड्स की अनियमतता को रखे बरकरार -जिन महिलयो के पीरियड्स अनियमित होते है या फिर जयादा ब्लीडिंग होती है उनको भी केले के फूल का सेवन जरूर करना चाहिए |

# माँ के ढूध को बढ़ाये -जिन महिलाओं में बच्चो की भूख यानि ढूध की कमी हो उन्हें केले के फूल का सेवन करना चाहिए इससे ढूध की कमी पूरी हो जाती है |

# डॉयबिटीज को करे कण्ट्रोल -केले के फूल के सेवन से जिन लोगो को डॉयबिटीज की शिकायत रहती है उनके लिए बहुत ही फायदेमंद होती है और शरीर में इन्सुलिन यानि शुगर लेवल को कण्ट्रोल में रखता है मगर ये अभी तक पूरी तरह से साबित नहीं हो पाया है की ऐसा होता है |

देखा दोस्तों कैसे केले के फूल के सेवन से हम कई बीमारियों को दूर कर सकते है

 



Check Also

अदरक से करे शरीर की बड़ी से बड़ी बीमारियों का इलाज

Share this now    आज कल के खाने से हम बीमार हो जाते है और …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »