Recent Updates
Home / Health / Acidity / अगर आपने नीम की चाय नहीं पी तो एक बार जरूर पिए क्योकि इससे भागती है अनेक बीमारिया जानिए कैसे .. Neem herbal tea is healthy know benefits

अगर आपने नीम की चाय नहीं पी तो एक बार जरूर पिए क्योकि इससे भागती है अनेक बीमारिया जानिए कैसे .. Neem herbal tea is healthy know benefits

Share this now


दोस्तों आज हम आपके लिए जो जानकारी लाये है वो नीम के बारे में है |अगर आपने नीम की चाय नहीं पी तो एक बार जरूर पिए क्योकि इससे भागती है अनेक बीमारिया जानिए कैसे ..|आप सब ये तो अच्छे से जानते होंगे की नीम हमारी सेहत के लिए कितना फायदेमंद है |वैसे तो नीम का नाम सुनते ही सबसे पहले इसके कड़वेपन के बारे में सोचते रहते है |लेकिन फिर भी नीम के बारे में ये बिलकुल सच्ची बात है की इसके प्रयोग से हम कई बीमारियों को दूर कर सकते है |और हम सब में से किसी न किसी ने एक बार अपने दांतो की सफाई के लिए नीम की दातुन का जरूर प्रयोग किया होंगे For More Visit https://onlyinayurveda.com



क्योकि वे सब जानते है की नीम की दातुन से दांतो की अच्छे से देखभाल की जा सकती है |और इसकी पत्तिया हमारी स्किन को सूंदर व चमकदार बना देती है |क्योकि नीम शरीर के बक्टेरिया व वायरस से लड़ने में बहुत ही जायदा काम करती है |लेकिन अगर आप नीम की पत्तियों की चाय बनाकर पीते है तो इससे आपके शरीर को दुगने लाभ मिलते है और ये शरीर की बीमारियों को जड़ से ख़तम करने में बहुत ही असरदार है |ये चाय आपको थोड़ी कड़वी जरूर लगेगी मगर इससे आपको जो फायदे मिलेंगे उसके आगे आप ये कड़वापन भी भूल जायेंगे |तो आइये जानते है आपने इस चाय को कैसे बनाना है और कैसे इसका सेवन करना है और इससे हमारे शरीर को क्या क्या फायदा मिलता है |



गोरा व सुंदर बनने के लिए छोड़िये महंगे प्रोडक्ट्स और अपनाये फलो के छिलको को ….!! Home Remedy to Whiten Face Fast





तो जानते है चाय बनाने की विधि :

# आप एक बर्तन में ले और इसमें सबसे पहले एक से डेढ कप पानी डाले और अच्छे से उबाल ले |और अब एक मुट्ठी भर कर नीम की पत्तियों को अच्छे से धोकर साफ़ कर ले और इन नाम की पत्तियों को उबले पानी में डाल दे और इसे ऐसे ही पांच से दस मिनट तक पानी में रहने दे और फिर इसे छान ले और इसमें स्वाद के अनुसार नीबू व शहद मिला ले ताकि आपको इस चाय का कुछ कड़वापन कम हो जाए |ये आपकी नीम की चाय तैयार हो गए है |अब इसके सेवन के बारे में आपने इस चाय का कप हर रोज सेवन नहीं करना है हफ्ते में एक से दो बार करना है और डिम में कभी भी किसी भी समय एक कप से जयादा सेवन नहीं करना है |अब हम आपको इसके फायदे बताते है ;

# तनाव दूर करे -अगर आप किसी बात से टेंशन में है तो आप नीम की चाय का सेवन करे इससे आपका तनाव कम हो जायेगा और साथ ही आपकी मेमोरी भी बढ़ती है |




# सांसो की बदबू करे दूर -कई लोगो से सांसो की बदबू की वजह से बात भी नहीं की सकती |ऐसे में अगर वे लोग नीम की चाय का सेवन करे तो इससे सांसो में में जमा बक्टेरिया ख़तम हो जायेगे और आपकी सांसो में से बदबू नहीं आयेगी |

# कब्ज करे दूर -नीम की चाय को पीने से जिन लोगो को पेट की समस्याएं यानी पेट में कब्ज रहती है वो भी दूर हो जाएगी |क्योकि जितनी भी शरीर की समस्याएं है उन सबका मूल कारण कब्ज होना या फिर पेट का गड़बड़ होना माना जाता है  |




# कैंसर को करे दूर -अगर आप हफ्ते में दो से तीन बार नीम की चाय का सेवन करते है तो इससे शरीर में कैंसर कोशिकाएं आसानी से नहीं पनप पाती है और कैंसर होने के कल्हात्रे से बच सकते हो |

# खून को करे साफ़ -नीम की चाय को पीने से हमारा खून साफ़ होता है और खून साफ़ होने से हम निरोगी बनते है \और इससे स्किन की समस्याएं व इन्फेक्शन से बचते है |और साथ ही हमारे फेस पर पिम्पल्स व झुर्रिया जल्दी नहीं आती है |




# दिल को रखे स्वस्थ -नीम की चाय को पीने से हमारा दिल स्वस्थ रहता है और हमारा दिल सही रूप से काम करता है |क्योकि इसमें भरपूर मात्रा में फ्लेवेनॉयड्स पाए जाते है जो हमारे शरीर में से बेड कोलेस्ट्रॉल को कम कर देती है |जिससे ये खून के थक्को को जमने नहीं देता है |

# इस चाय को पीने से हम निमोनिया ,मालिरिया और वायरल बुखार से भी बच जाते है | तो आप इन समस्याओं से बचने के लिए नीम की चाय का जरूर सेवन करे |

देखा दोस्तो कैसे नीम की चाय को पीने से हम कई बीमारियों से बच जाते है |लेकिन इस चाय का आपने हर रोज सेवन नहीं करना है और न ही इस चाय का सेवन गर्भवती महिलाओं को करना है नहीं तो इससे गर्भ गिरने का खतरा बढ़ जाता है |

 

 



Check Also

अगर आप भी जाते है जिम तो आज से ही अपनी डाइट में करे इन खाद्य पदार्थो को शामिल, लोग आपसे जरूर पूछेंगे आपकी सेहत का राज क्या है ???

Share this nowअगर आप भी चाहते है अपने शरीर को फिट बनाना तो आज से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »